एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "२"।

नवमी

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
व्यवस्थापन (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित 12:15, 21 मार्च 2014 का अवतरण (Text replace - "Category:हिन्दू धर्म कोश" to "Category:हिन्दू धर्म कोशCategory:धर्म कोश")
(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
  • सूर्य से चन्द्र के अन्तर तक 97° से 108° तक नवमी होती है, तब शुक्ल पक्ष की नवमी और 277° से 288° तक कृष्ण नवमी रहती है।
  • नवमी चन्द्र तिथि की स्वामिनी ‘दुर्गा देवी’ है। यह ‘रिक्ता’ संज्ञक है। इसका विशेष नाम ‘उग्रा’ है। इसमें समस्त शुभ कार्य वर्जित है।
  • नवमी शनिवार को सिद्धिदा और गुरुवार को मृत्युदा होती है।
  • चैत्र मास में यह शून्य संज्ञक होती है।
  • नवमी तिथि की दिशा पूर्व है।
  • शिवपूजन के लिये यह तिथि शुक्ल पक्ष में अशुभ और कृष्ण पक्ष में शुभ होती है।
  • चन्द्रमा की इस नौवीं कला के अमृत का पान यमराज करते हैं।
  • विशेष – नवमी तिथि शुक्र ग्रह की जन्म तिथि है। इसलिये शुभ कार्यों में वर्जित करनी चाहिये।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख